सर्दियों में पंजाबी स्टाइल से घर पर बनाएं सरसों का साग, जानें इसकी रेसिपी !

सरसों का साग टेस्टी होने के साथ शरीर को गर्माहट देता है और सर्दी के असर से बचाता है. पंजाब और हरियाणा में ये बहुत लोकप्रिय है. यहां जानें पंजाबी स्टाइल में सरसों का साग बनाने का तरीका.

सर्दियां शुरू होते ही बाजार में तमाम सब्जियों के विकल्प नजर आने लगते हैं. इस मौसम में हरा साग जैसे मेथी, बथुआ, पालक आदि काफी पसंद किया जाता है. लेकिन पंजाब और ​हरियाणा में तो इन दिनों में सबसे ज्यादा सरसों का साग और मक्के की रोटी खाई जाती है. सरसों के साग में कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, पोटैशियम, विटामिन ए, सी, डी, बी-12, मैग्नीशियम, आयरन और कैल्शियम भरपूर मात्रा में होता है.

सरसों का साग टेस्टी होने के साथ शरीर को गर्माहट देता है और सर्दी के असर से बचाता है. इसके अलावा ये सेहत के लिहाज से काफी अच्छा माना जाता है. सरसों के साग में थोड़ी कड़वाहट होने के कारण इसमें पालक और बथुआ भी डाला जाता है. इससे साग का स्वाद बेहतर होने के साथ फायदे भी काफी बढ़ जाते हैं. अब चूंकि सर्दियों ने दस्तक दे दी है, ऐसे में आप ​भी घर पर पंजाबी स्टाइल में टेस्टी सरसों का साग तैयार करके खुद भी खाएं और बाकी लोगों को भी खिलाएं. यहां जानिए इसे बनाने का आसान तरीका.

सामग्री

500 ग्राम सरसों का साग, 250 ग्राम पालक, 250 ग्राम बथुआ, एक पूरी गट्ठी लहसुन, 4 से 6 हरी मिर्च, एक ​इंच अदरक का टुकड़ा, आधा चम्मच साबुत धनिया, एक चुटकी हींग, एक चम्मच धनिया पाउडर, एक मीडियम आकार का प्याज, दो टमाटर, दो साबुत लाल मिर्च, तीन चम्मच मक्के का आटा, नमक स्वादानुसार और घी जरूरत के अनुसार.

READ  How to make dal ke papad - moong dal ke papad banane ki vidhi

बनाने का तरीका

सबसे पहले साग को अच्छे से धोकर बारीक काट लें. इसके बाद साग को कुकर में डालकर एक चम्मच नमक डालें और दो चमचा पानी डालें और इसे बंद कर दें और गैस जलाकर सिर्फ एक सीटी लगाएं.

इस बीच आप लहसुन, मिर्च को काट लें और अदरक को घिस लें. कुकर का प्रेशर खत्म होने के बाद इसे खोलें. इसमें आधा लहसुन, आधी घिसी अदरक और आधी कटी हुई मिर्च डालें और मथानी की मदद से इसे मिक्स करें.

इसके बाद गैस पर मध्यम आंच पर कुकर को रखें और एक प्लेट से इसे ढक दें. लेकिन पूरा नहीं ढकना है, साइड से थोड़ा सा खुला रहने दें ताकि भाप बाहर निकलती रहे. करीब आधा घंटे तक इसे ऐसे ही पकाना है. 10-10 मिनट पर इसे मथानी से चलाते रहें.

अगर इसमें गाढ़ापन ज्यादा हो तो आप पानी को उबालकर अपने हिसाब से डाल सकते हैं. लेकिन बहुत पतला न करें. साग गाढ़ा ही अच्छा लगता है. करीब आधा घंटे बाद इसमें तीन चम्मच मक्के का आटा डालें और अच्छे से मिक्स करें. इसके बाद गैस बंद कर दें.

अब इसका तड़का तैयार करने के​ लिए प्याज और टमाटर को बारीक काट लें. इसके बाद गैस पर कड़ाही रखें और उसमें देसी घी करीब दो से तीन चम्मच डालें. इसके बाद बचा हुआ लहसुन हरी मिर्च और अदरक डालकर भूनें. इसके बाद प्याज डालें और हल्का सुनहरा करें. फिर टमाटर डालें और थोड़ा सा नमक डाल दें ताकि टमाटर अच्छे से गल जाए और साथ में सूखा धनिया पाउडर डाल दें.

READ  Rasgulla recipe in marathi

इसके बाद साग को डालकर अच्छे से सारी चीजों को मिक्स कर दें. अब छौंक तैयार करने के लिए एक बर्तन में फिर से अच्छे से देसी घी डालें. लहसुन की पांच से 6 कलियां छीलकर साबुत ही रहने दें. हरी मिर्च को बीच से लंबा दो हिस्सों में काट लें.

घी गर्म होने पर इसमें लहसुन भूनें. इसके बाद हरी मिर्च, साबुत लाल मिर्च, साबुत धनिया डालें और एक चुटकी हींग डाल दें. इसके बाद इस छौंक को साग पर डाल दें और दो मिनट के लिए ढक दें. इसके बाद गर्मागर्म साग को मक्के की रोटी के साथ परोसें.

यह भी पढ़ें – इन 4 लोगों के लिए जहर के समान होता है दही का सेवन, झेलने पड़ सकते हैं गंभीर परिणाम

यह भी पढ़ें – Health care tips: सर्दी में कॉर्न सूप पीना है जरूरी, जानें इसके फायदे


पंजाबी स्टाइल सरसो का साग बनाने की विधि | Sarson Ka Saag Recipe | Traditional Saag RECIPE


Hãy bình luận đầu tiên

Để lại một phản hồi

Thư điện tử của bạn sẽ không được hiện thị công khai.